www का फुल फॉर्म क्या है | www ka full form in hindi

www का फुल फॉर्म क्या है | www ka full form kay hai

www full form in hindi – ‌इस आर्टिकल में हम www और www ke full form के बारे में पड़ेंगे क्योंकि बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्हें (www) world wide web क्या है 

उसके बारे में कोई जानकारी नहीं होती है यह सवाल अक्सर उनके मन में तब आता होगा जब वह गूगल या फिर किसी दूसरे  ब्राउज़र का इस्तेमाल करते होंगे तब किसी वेबसाइट की url में पहले www लिखा होता है और वह समझ नहीं पाते हैं 

कि इसका मतलब क्या होता है अगर आपको भी www क्या है नहीं पता है और आप भी जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को पूरा अच्छे से पढ़ें  इस आर्टिकल में हमने www kay hai यह तो बताया ही है 

और साथ में www full form in hindi, www kay hai, http और https क्या है आदि और भी डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू  से रिलेटेड बहुत सारी जानकारियों के बारे में बताया गया है  

डब्लू डब्लू डब्लू का पूरा नाम क्या है? | www ka full form kay hai 

www ka full form या पूरा नाम world-wide-web होता है  (WWW Full Form in Hindi) – “वर्ल्ड वाइड वेब” या “विश्वव्यापी वेब” होता है 

W – World 

W – Wide

W –  Web 

WWW क्या है | www kay hai 

WWW का मतलब world-wide-web होता है जब आप किसी भी ब्राउज़र का इस्तेमाल करके किसी वेबसाइट या किसी पेज को ओपन करते हैं तब उस वेबसाइट या फिर उस पेज के यूआरएल में सबसे पहले डब्लू डब्लू डब्लू लिखा होता है

WWW जो होता है वह एक प्रकार का सरवर होता है जहां इंटरनेट के सभी प्रकार के वेबसाइट और सभी प्रकार के यूआरएल और पेजेस यह सब WWW के सर्वर पर स्टोर रहता हैं 

WWW के सर्वर पर  पूरी दुनिया के सभी प्रकार के वेबसाइट स्टोर होते हैं और साथ में सभी प्रकार के फाइल्स भी जैसे कि audio, video, texts, MP3, यह सभी प्रकार कि फाइलें जिस भी वेबसाइट पर होती है उस वेबसाइट के सर्वर पर स्टोर होती है 

अब www इतना बड़ा सर्वर है तथा इस पर बहुत सारे डाटा फाइलें स्टोर होता है तो उन फाइलों को किसी यूज़र द्वारा इनमें से किसी एक वेबसाइट या फिर किसी एक वेबसाइट के ब्लॉग या पेज पर जाने के लिए एक URL होता है 

जिसे Uniform Resource Locator कहा जाता है जैसे आप किसी ब्राउज़र पर जाते हैं उसमें दूसरे दूसरे वेबसाइट पर जाते होंगे तो देखते होंगे कि हर एक वेबसाइट का URL यानी Uniform Resource Locator अलग अलग होता है 

इसलिए URL का निर्माण किया गया कि www का बहुत बड़ा सर्वर है और इस पर बहुत सारे वेबसाइट स्टोर है इसलिए URL के माध्यम दुनिया के किसी भी कोने से किसी भी वेबसाइट पर जाना हो तो उसके URL के माध्यम से बहुत ही आसानी से उस वेबसाइट पर पहचा जा सकता है 

http और https क्या है 

इंटरनेट की दुनिया बहुत बड़ी है और इंटरनेट को चलने के लिए बहुत सारी टेक्निक की जरूरत पड़ती है अक्सर आप ब्राउज़र का इस्तेमाल करके किसी वेबसाइट या फिर किसी पेज पर जाते होंगे 

तब वहां उस पेज या उस वेबसाइट के URL में http या फिर https देखने को मिलता है और बहुत से लोग  http और https का मतलब क्या होता है और इनका मतलब क्या होता नहीं समझ पाते हैं 

आइए इनके बारे में जानते http का मतलब Hypertext Transfer Protocol होता है जैसा कि इसके नाम से ही पता चल रहा है कि डाटा या टैक्स ट्रांसफर करना जैसे कि मान लिजिए किसी ब्राउज़र पर जाते हैं 

और वहां अपने जरूरत के हिसाब से कुछ सर्च करते हैं तब गूगल इंटरनेट के सर्वर से Hypertext Transfer Protocol के माध्यम से आपके सवालों के जवाब secure करके आप तक पहुंचाता है जैसे आप आनलाइन किसी वेबसाइट पर जाकर कोई फार्म भरते हैं 

और अपना पर्सनल डाटा शेयर करते हैं तो आपका डाटा https के माध्यम से होकर उस वेबसाइट के सर्वर पर जाकर स्टोर होता है आपका डाटा वेबसाइट के सर्वर तक जाने के बिच को हैकर हैक ना 

कर लें या कोई तीसरा आपके डाटा को एक्सेस ना कर लें उसके लिए https का इस्तेमाल किया जाता है https का मतलब Hypertext Transfer Protocol security होता है 

http और https में क्या अंतर है 

अब आप इंटरनेट पर कहीं अपना पर्सनल डाटा जैसे आधार कार्ड , पैन कार्ड, या कोई अन्य डाटा शेयर करते हैं अगर उस वेबसाइट में https का इस्तेमाल किया गया है तो  आपका डाटा सेफ है 

और किसी हैकर द्वारा अपका डाटा हैक नहीं किया जा सकता और ना आपके अलावा कोई उसे एक्सेस कर सकता सकता है और वहीं अगर आप इंटरनेट पर कहीं अपना पर्सनल डाटा जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड, या कोई अन्य डाटा शेयर करते हैं 

और उस वेबसाइट में http का इस्तेमाल किया गया है और उसमें security का कोई सिस्टम नहीं होता है तो उन वेबसाइटों से डाटा लिक एवं हैक होने का रिस्क बना रहता है 

WWW का इतिहास | world wide web ka Itihas 

सन् 1989 के समय में CERN में काम करते हुए इसमें 100 से भी अधिक देशों के लगभग 17000 हजार से भी अधिक वैज्ञानिक कार्य कर रहे थे इन वैज्ञानिकों को आपस में कनेक्ट होने के लिए किसी सूचना को आपस में साझा करने में काफी समस्या का सामना करना पड़ता था 

इसी के कारण ब्रिटिश के वैज्ञानिक की टीम बेर्नेर्स–ली ने (www) world wide web का अविष्कार किया जिससे दुनिया भर के विश्वविद्यालयों और संस्थानों के वैज्ञानिक आसानी से सूचना साझा कर सकें 

world wide web के फायदे

इंटरनेट के आ जाने से दुनिया का तेजी विकास हो पाया है हमारी रोजमर्रा के कार्यों में से ज्यादातर कार्य को इंटरनेट के माध्यम से ही हो जाते हैं इंटरनेट के आने से दुनिया के कोने कोने से लोग एक दूसरे से कनेक्ट हो सकते हैं 

इसके माध्यम से कम बहुत सारी जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं रैपिड इंटरैक्टिव संचार जो विभिन्न सेवाओं के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है प्रोफेशनल कांटेक्ट की स्थापना के साथ-साथ सूचनाओं का आदान-प्रदान । इंटरनेट का यूसेज तेजी से बढ़ता जा रहा है  

FAQ – People also ask 

Q.1 WWW full form in hindi? 

—  www ka full form hindi में वर्ल्ड वाइड वेब या विश्वव्यापी वेब होता है

Q.2 WWW full form in computer? 

— WWW ka full form world-wide-web होता है

Conclusion – www full form in hindi

इस आर्टिकल में हमने www यानी कि world wide web के बहुत सारी जानकारियों के बारे में पढ़ा जैसे कि www full form in hindi, www kay hai, http और https क्या है  

साथ में और भी वर्ल्ड वाइड वेब से रिलेटेड जानकारियों के बारे में पढ़ा और हमें उम्मीद आपने भी इस आर्टिकल को पूरा पढ़ा होगा और www के बारे में अच्छे से जान गए होंगे अगर आप world wide web 

या www full form in hindi से रिलेटेड कुछ जानना चाहते हैं या कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो हमें कमेंट में लिखकर जरूर बताएं धन्यवाद। 

Leave a Comment