MNC full form in hindi | एमएनसी का फुल फॉर्म क्या है ?

  

MNC का फुल फॉर्म क्या है | mnc full form in hindi

Mnc full form in hindi – आज के इस आर्टिकल में हम एमएनसी के बारे में पढ़ेंग क्योंकि बहुत से ऐसे लोग हैं जो नौकरी करने वाले लोग हैं जो नौकरी करते है या नौकरी के लिए कहीं पर एप्लाई करते हैं तब उनके सामने अक्सर mnc का नाम आता है और वह समझ नहीं पाते हैं 

कि एमएनसी क्या होता है, इसका मतलब क्या होता है, और mnc ka full form क्या होता है, ऐसे और भी सवालों के जवाबों को जानना चाहते हैं और क्या आपको भी mnc के बारे में कुछ खास जानकारियां पता नहीं है और इसके बारे में पूरे बिस्तार से जानना चाहते हैं 

तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें इस आर्टिकल में हमने एमएनसी के बारे में पूरी जानकारी दी है जैसे कि एमएनसी (MNC) का फुल फॉर्म क्या है, इंडिया में mnc कंपनियों के नाम, MNCs कंपनियों के लाभ, इससे संबंधित और भी जानकारियां दी गई है 

एमएनसी का फुल फॉर्म क्या है | mnc full form in hindi  

MNC का फुल फॉर्म या एमएनसी का पूरा नाम “multinational corporation” होता हैं और mnc को हिंदी में “बहुराष्ट्रीय संगठन” कहा जाता है 

इसे भी पढ़ें।

एमएनसी कंपनी क्या है

mnc कंपनियां वह कंपनीया होती है जो कंपनियां अपना कारोबार अपने देश के अलावा की अन्य देशों में भी अपने  कंपनी के branch से कारोबार को चलाती है जो कंपनियां बहुत बड़े बड़े कारोबार को करती है और अपने प्रोडक्ट एवं सर्विस को अपने देशों के लोगों के अलावा अन्य देशों के लोगों तक पहुंचाती है 

और इनकी सर्विस अच्छी चलने पर ही वह कंपनी उन देशों में नियम और कानून का पालन करते हुए अपने कंपनी के ब्रांचों को उन देशों में खोलते हैं और उन कंपनियों के शाखाएं उन देशों में खुलने पर उस देश के लोगों द्वारा उस कंपनी के ऊपर विश्वास हो जाता है कि यह कंपनी genuine है कभी किसी दूसरे देश की कंपनी हमारे देश में आई है 

और वह निश्चिंत होकर उस कंपनी के प्रोडक्ट एवं सर्विस को इस्तेमाल करते हैं जिससे वह कंपनीया काफी अच्छे से चलती और काफी मुनाफा भी कमाती है और एमएनसी कंपनियों का turnover बहुत ज्यादा होता है और mnc कंपनियां बाकी कंपनीयों के मुकाबले बहुत ज्यादा कमाती है 

और इन कंपनियों के ब्रांचों को शाखा भी कहा जाता है और इन कंपनियों के ब्रांचों को इन कंपनियों के headquarters से मैनेजमेंट किया जाता है और इन कंपनियों का headquarters इनके खुद के देश में रहता है जहां यह कंपनियां स्थिति होती है 

इंडिया में mnc कंपनियों के नाम 

आइए अब उन mnc कंपनियों के नामों को जानते जो कंपनियां अन्य देशों के साथ अपने भारत में उन कंपनियों के ब्रांच स्थिति है 

  • Microsoft
  • Coca Cola
  • Pepsico
  • Citi Group
  • Sony Corporation
  • Hewlett Packard (HP)
  • Apple Inc
  • IBM
  • Nestle
  • Procter and Gamble 
  • Capgemini 
  • Adidas 

MNCs कंपनियों के लाभ 

जब कोई MNC कंपनी किसी देश में अपने कंपनी के शाखा को उस देश में स्थापित करता तब उस कंपनी को फायदा तो होता ही है और साथ में उस देश और वहां के लोगों को भी काफी ज्यादा फायदा भी होता है 
जैसे उस कंपनी के प्रोडक्ट एवं सर्विस को अच्छे से इस्तेमाल कर सकते हैं और नौकरी करने वाले लोगों के लिए उनके योग्यता के आधार पर उन्हें रोजगार मिल जाता है और अगर कोई अच्छी mnc कंपनियां होती है तो उस कंपनी के ऊंचे पद वाले कर्मचारियों का प्रमोशन होने पर दूसरे देशों में भी कामों को करने के लिए भेजती रहती है 
और उन कर्मचारियों का आने जाने का खर्चा भी वह कंपनीयां उठाती है क्योंकि हर कंपनियां मल्टीनेशनल होती और उनकी वैल्यूएशन भी बहुत ज्यादा होती है इसलिए MNCs कंपनियों के बहुत सारे लाभ होते हैं  

एमएनसी कंपनी के कार्य प्रकार 

सब्सिडरी – जब कोई बड़ी एमएनसी कंपनी अपने कंपनी के शाखा को किसी दूसरे देश में open करती है तो उस देश कि कोई अन्य कंपनी उस एमएनसी कंपनी कि मदद करती और उसकी मार्केटिंग करने में मदद करती है तो वह सब्सिडरी कहलाता है 
फ़्रेंचाइज़िंग – जब कोई एमएनसी कंपनी अपने कंपनी के शाखा को खोलने का स्वीकृति या अधिकार किसी को देती है जैसे कोई व्यक्ति हैं या कोई मेनेजमेंट कंपनी है जो एमएनसी कंपनी के शाखा को ऐसे स्थान पर खोलता है जहां लोगों को उसकी जरूरत है 
और कंपनी कि अच्छे से मार्केटिंग हो सकें और दूसरा व्यक्ति एमएनसी कंपनी के शाखा को खोलता है तो वह फ़्रेंचाइज़िंग कहलाता है लेकिन एमएनसी कंपनी के शाखा को खोलने से वह शाखा का मालिक नहीं बन जाता है 
और उस व्यक्ति के हिसाब से नहीं चलता है बल्कि कंपनी के सभी शाखाओं कि तरह उस शाखा को भी कंपनी के हेडक्वार्टर से ऑपरेट किया जाता है और हेडक्वार्टर के अनुसार उसे मैनेजमेंट किया जाता है 
जॉइंट वेंचर्स – जब एमएनसी कंपनी किसी अन्य कंपनी के साथ कार्य करती या पार्टनरशिप में कार्य करते हैं तो उसे ही जॉइंट वेंचर्स कहा जाता है जैसे बहुत सी ऐसी कंपनी जो पार्टनरशिप में एक साथ कार्य करती है जैसे उदाहरण के टेलीकॉम कंपनियों को देख लिजिए vodaphone और idea यह दोनों अलग-अलग सिम कंपनियां थी। 
लेकिन हाल में ही इन दोनों कंपनियों ने हाथ मिला लिया और मर्ज हो गई जिसे आज Vi के नाम से जाना जाता है और ऐसी बहुत सी कंपनियां है जो पार्टनरशिप में कार्य करती है या एक साथ मर्ज हो जाती है 

Conclusion – MNC full form in hindi 

इस आर्टिकल में हमने mnc कंपनियों के बारे में पूरे बिस्तार से पढ़ा जैसे कि MNC क्या होता है, एमएनसी (MNC) का फुल फॉर्म और मतलब क्या है, इंडिया में mnc कंपनियों के नाम, MNCs कंपनियों के लाभ, ऐसे और भी MNC से रिलेटेड जानकारियों के बारे में पढ़ा और हमें उम्मीद है 

कि आपने इस आर्टिकल को पूरा पढ़ा होगा और इस आर्टिकल को पढ़ के आपको एमएनसी के बारे में अच्छे से जान गए होंगे और अगर MNC के बारे में और भी कुछ जानना चाहते हैं या फिर एमएनसी से रिलेटेड कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो हमें कमेंट में लिखकर जरूर बताएं धन्यवाद।

Leave a Comment