DSP full form in hindi | डीएसपी का फुल फॉर्म क्या है

 DSP full form in hindi – हेल्लो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम सब DSP ka full form और dsp से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियों के बारे में dsp का नाम तो आपने सुना ही होगा 

और शायद इसके बारे में जानते भी होंगे dsp का नाम अक्सर सुनने को मिलता है क्योंकि यह पुलिस विभाग का उच्च पदों में से एक पद है और ऐसे बहुत से लोग हैं जो dsp का नाम पहली बार सुनते हैं 

तो वह यह समझ नहीं पाते हैं कि dsp ka full form क्या होता है, या dsp कौन होता है आदि ऐसे बहुत सारे सवाल है जो लोगों को पता नहीं होता है और वह इसके बारे में अच्छे से जानने के लिए इंटरनेट पर सर्च करने लगते हैं 

और अगर आपको भी dsp के बारे में ज्यादा कुछ पता नहीं है और आप इसके बारे में अच्छे से जानना चाहते हैं कि dsp कौन होता है, dsp कैसे बनें, dsp बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए, 

आदि dsp से संबंधित ऐसे सवालों के बारे में अच्छे से जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल पर बने रहे और इस आर्टिकल को पूरा अच्छे से पढ़ें इस आर्टिकल में DSP full form in hindi और dsp से संबंधित सभी जानकारियों के बारे में पूरी जानकारियां अच्छे से दी गई है 

DSP full form in hindi | डीएसपी का फुल फॉर्म क्या है हिंदी में? 

DSP full form in hindi

DSP ka full form Deputy Superintendent of Police होती है और dsp का फुल फॉर्म हिंदी में पुलिस उपाधीक्षक होता है dsp आफिसर बनने के लिए states pcs के एग्जाम को पास करना होगा 

और states pcs  का एग्जाम हर राज्यों में उनका अपना अलग अलग एग्जाम होता है जैसे उत्तर प्रदेश राज्य के लिए UPPSC का एग्जाम होता है और विहार राज्य के लिए BPSC होता है और महाराष्ट्र राज्य के लिए MPSC

आदि वैसे ही हर  राज्यों में states pcs का एग्जाम हर वर्ष आयोजित कराया जाता है और आप जिस राज्य के रहने वाले हैं तो उस राज्य का जब states pcs का एग्जाम आयोजित किया जाता है तब आप उस एग्जाम में हिस्सा ले सकते हैं 

इसे भी पढ़ें।  

SP का फुल फॉर्म क्या है

SSP का फुल फॉर्म क्या है

SDO का फुल फॉर्म क्या है

SDM का फुल फॉर्म क्या है

DSP आफिसर कैसे बनें 

DSP आफिसर बनने के दो तरीके हैं पहला तो प्रमोशन के जरिए और दूसरा है States PCS प्रमोशन के जरिए DSP बनने कि प्रकिया कुछ इस प्रकार से है 

जब भी कोई कैंडिडेट पुलिस विभाग में Sub inspector के पद नियुक्त होता है तो उसके अगले दस साल बाद प्रोमोशन के जरिए वह police inspector के पद पर नियुक्त किया जाता है 

और फिर उसके अगले 15 सालों बाद DSP के पद के लिए नियुक्त किया जाता है और प्रोमोशन के जरिए DSP आफिसर बनने में काफी लम्बा समय लग जाता है लगभग 25 साल लग जाते हैं लेकिन States PCS एग्जाम के जरिए एग्जाम के सभी चरणों को पास करने के बाद डायरेक्ट DSP आफिसर बना जा सकता है

DSP आफिसर बनने के लिए योग्यता 

DSP आफिसर बनने के लिए अभ्यर्थियों किसी भी मान्यता प्राप्त विद्यालय से ग्रेजुएशन पास कि डिग्री होनी चाहिए 

और इसमें किसी भी प्रकार कि प्रतिशत कि requirement नहीं रखी गई है बस उम्मीदवारों को पासिंग मार्क्स होना चाहिए और यदि 

अभ्यर्थी B.A, B.COM, BBA, BCA, Engineering, medical आदि कि भी यदि पासिंग मार्क्स से डिग्री हासिल कि है तब वह इस एग्जाम में बैठ सकते हैं 

DSP आफिसर बनने के लिए आयु सीमा

State PCS परीक्षा के फार्म को भरने के लिए अभ्यर्थियों की आयु सीमा कम से कम 21 साल से लेकर 40 साल तक होना चाहिए और अगर category wise आयु सीमा की बात की जाए तो  

  • general category वाले अभ्यर्थियों की आयु सीमा कम से कम 21 वर्ष से लेकर 40 वर्ष तक ही होनी चाहिए 
  • और OBC category वाले अभ्यर्थियों कि आयु सीमा कम से कम 21 वर्ष से लेकर 45 तक होनी चाहिए 
  • SC/ST category वाले अभ्यर्थियों कि आयु सीमा कम से कम 21 वर्ष से लेकर 45 वर्ष तक होनी चाहिए 
  • PWD category वाले अभ्यर्थियों कि आयु सीमा कम से कम 21 वर्ष से लेकर 55 वर्ष तक होनी चाहिए 

SP आफिसर बनने के लिए शारीरिक योग्यता 

SP आफिसर के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों के लिए कुछ महत्वपूर्ण eligibility criteria रखी गई है 

और आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को इस योग्यताओं को देखकर अच्छे से जानना है कि क्या वह इस सभी योग्यताओं के लिए eligibil है  

Height 

  • Male candidates की उंचाई 165cm होनी चाहिए और 
  • Female candidates की उंचाई 152cm होनी चाहिए  ST/SC Category वाले male candidates कि ऊंचाई 160cm होनी चाहिए 
  • ST/SC Category वाले Female candidates कि ऊंचाई 147cm होनी चाहिए 

Chest  

  • एग्जाम के लिए आवेदन करने में उम्मीदवारों में male candidates का Chest 84cm होना चाहिए और फूलाने के बाद 5cm का फूलाव भी होना चाहिए 
  • और एग्जाम के लिए आवेदन करने में उम्मीदवारों में Female candidates का वजन 40 kg के आस पास होना चाहिए।

DSP के लिए एग्जाम पैटर्न 

DSP के लिए हर राज्यों द्वारा PCS का एग्जाम आयोजित किया जाता है जिसमें मुख्य रूप से तीन चरणों में परीक्षा को आयोजित किया जाता है 

  • प्रारंभिक परीक्षा 
  • मुख्य परीक्षा  
  • इंटरव्यू 

प्रारंभिक परीक्षा 

प्रारंभिक परीक्षा के दो पेपर होता है पहला पेपर general studies और दूसरा पेपर C-SAT 

पहले पेपर general studies में कुल 150 प्रश्र पूछें जाते हैं जोकि पूरे 200 अंकों के होते हैं और इसमें पूछें गए सभी प्रश्र बहुविकल्पीय प्रश्न होते हैं और इस पेपर को हल करने के लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है इस पेपर में Negative marking भी होता है यानी हर ग़लत जवाब पर 1/3 अंक काट दिया जाता है 

दूसरा पेपर C-SAT मे कुल 100 प्रश्र पूछें जाते हैं जोकि पूरे 200 अंकों के होते हैं और इसमें पूछें गए सभी प्रश्र बहुविकल्पीय प्रश्न होते हैं और इस पेपर को हल करने के लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है इस पेपर में Negative marking भी होता है यानी हर ग़लत जवाब पर 1/3 अंक काट दिया जाता है  

मुख्य परीक्षा 

इस परीक्षा में कुल 9 पेपर होते हैं जिसमें से केवल 2 पेपर क्वालीफाइंग होते हैं और बाकी के 7 पेपरों के अंकों को अंतिम चरण के सूची में जोड़ा जाता है 

-general Hindi इस पेपर में कुल 50 प्रश्र पूछें जाते हैं और इस पेपर को पूरा करने के लिए तीन घंटे का समय दिया जाता है और यह Qualifying paper होता है यानी इस पेपर को पास करने के बाद दूसरे पेपर को दिया जाता है

-essay 

इस पेपर में कुल 3 खंड होते हैं और हर खंड में से एक-एक topic पर 700-700 शब्दों का निबंध लिखना होता है और हर निबंध 50-50 अंकों का होता है 

और इस पेपर को पूरा करने में 3 घंटे का समय दिया जाता है और आइए अब जानते हैं इन खंडों में किन किन topic पर प्रश्न पूछे जाते हैं

                                (क) खंड 

साहित्य और संस्कृति

सामाजिक क्षेत्र

राजनैतिक क्षेत्र 

                                (ख) खंड

विज्ञान पर्यावरण और आघोगिकी 

आर्थिक क्षेत्र

कृषि उघोग और व्यापार

                               (ग) खंड

राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय घटनाक्रम

प्राकृतिक आपदाएं, भूस्खलन, भूकंप, बाढ़, सुखा आदि 

राष्ट्रीय विकास योजनाएं और परियोजनाएं 

-general studies 1

-general studies 2

-general studies 3

-general studies 4 

-2 options paper : paper 1 paper 2   

interview 

प्रारम्भिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा को पास करने के बाद interview के लिए बुलाया जाता है और interview 200 माक्स का होता है जिसमें कई तरह के सवाल पूछे जाते और अभ्यर्थी को उसका सही सही जवाब देना होता है और interview के बाद मैरिट लिस्ट जारी की जाती है जिसके आधार पर अभ्यर्थियों का चयन किया जाता है  

DSP कि सैलरी कितनी होती है 

दोस्तों हमने DSP से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियों के बारे में तो अच्छे से जान लिया लेकिन अब बहुत से अभ्यर्थियों के मन यह सवाल आता होगा 

कि एक DSP आफिसर कि सैलरी कितनी मिलती है तो सैलरी कि बात करें तो हर राज्य में DSP कि सैलरी अलग अलग होता है 

लेकिन फिर भी एवरेज सैलरी कि बात करें तो एक DSP आफिसर को एंट्री लेवल मासिक वेतन 78,000 से लेकर 96,000 तक मिलती है जोकि 1400 ग्रैंड पे मिलता है और जैसे जैसे समय बढ़ता जाता है वैसे वैसे सैलरी भी बढ़ती है 

FAQ – People also ask 

Q.1 DSP full form in hindi? 

Ans- DSP ka full form hindi में पुलिस उपाधीक्षक होता है.

Q.2 DSP full form in english?

Ans – DSP ka full form English में Deputy Superintendent of Police होता है.

Conclusion – DSP full form in hindi 

आज के इस आर्टिकल में हम सबने DSP के बारे में उससे संबंधित बहुत सारी जानकारियों के बारे में अच्छे से पढ़ा जैसे कि DSP full form in hindi, DSP आफिसर कैसे बनें, DSP आफिसर बनने के लिए योग्यता आदि 

ऐसे और DSP से संबंधित बहुत सारी जानकारियों के बारे में पढ़ा और हम यह उम्मीद करते हैं आपने इस आर्टिकल को पूरा अच्छे से पढ़ा होगा और इस आर्टिकल को पूरा अच्छे से पढ़कर आपको 

DSP से संबंधित जानकारियां प्राप्त हो गई होंगी और अगर आप DSP ka full form या DSP से संबंधित और भी कुछ जानना चाहते या इससे रिलेटेड कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो हमें कमेंट में लिखकर जरूर बताएं धन्यवाद।

Leave a Comment