टीसी का फुल फॉर्म क्या है | TC full form in hindi

tc का फुल फॉर्म क्या है |  TC full form in hindi


Tc full form in hindi – आज के इस आर्टिकल में हम tc के बारे में पढ़ेंगे। वैसे तो tc को बहुत से नामों से जाना जाता है लेकिन आज tc का एक नाम transfer certificate के बारे में जानेंगे। 

यह तो आप जानते ही होंगे कि tc एक बहुत ही जरूरी document है लेकिन tc को लेकर कुछ लोगों के मन में बहुत से सवाल आते हैं कि tc क्या होता है, tc ka full form in hindi, tc का इस्तेमाल क्यों किया जाता है 

ऐसे और भी सवाल लोगों के मन में आते रहते हैं अगर आप के मन में भी tc से रिलेटेड कोई सवाल हैं और आप tc के बारे में अच्छे से जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें और अगर आप स्कूल या कॉलेज में पढ़ने वाले छात्र है 

तो आपको tc के बारे पूरी जानकारी अच्छे से जाननी चाहिए इस आर्टिकल में हमने बताया है कि Tc kya hai, Tc full form in hindi, ऐसे और भी tc से रिलेटेड बहुत सारी जानकारियां इस आर्टिकल में दी गई तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

tc का फुल फॉर्म क्या है |  TC full form in hindi

TC ka full form या पूरा नाम “transfer certificate” होता है जिसे हिन्दी में “स्थानांतरण प्रमाणपत्र” कहा जाता है TC एक बहुत ही जरूरी डॉक्यूमेंट है यह तो आप जानते ही होंगे। 

इसे भी पढ़ें। 

CV का फुल फॉर्म क्या है

DJ का फुल फॉर्म क्या है

TVS का फुल फॉर्म क्या है

CPCT का फुल फॉर्म क्या है

tc full form in railway in hindi

TC का तो मतलब बहुत कुछ होता है अगर बात की जाए railway tc ka full form या पूरा नाम तो “टिकट कलक्टर” होता है। लेकिन ज्यादातर टीटीई (ट्रैवलिंग टिकट एग्जामिनर) / 

टीटीआई (ट्रैवलिंग टिकट इंस्पेक्टर) के रूप में जाना जाता है, जो भारतीय रेलवे के अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों में से एक है, जो यात्रियों के रेल टिकट चेकिंग जैसे कार्यों को करते हैं।

tc क्या है | tc kya hai 

tc का मतलब “स्थानांतरण प्रमाण पत्र” होता है यह स्कूलों एवं कालेजों के तरफ से दिया जाने वाला एक प्रमाण पत्र होता है tc छात्रों के लिए बहुत ही जरूरी पत्र होता है उदाहरण जैसे कि अगर कोई व्यक्ति किसी प्राइवेट कंपनी में या फिर अगर कोई व्यक्ति किसी गवर्मेंट कंपनी में कुछ सालों तक कार्य करता है 

फिर बाद में वह उस कंपनी को छोड़कर किसी दूसरे कंपनी में कार्य करने जाता है तो वह जिस कंपनी में कार्य कर रहा था वह कंपनी उस व्यक्ति को tc यानी की “transfer certificate” बना के देती है जिसमें उस व्यक्ति की बहुत सारी जानकारियां दी गई होती है जैसे उस व्यक्ति का कार्य क्या है, 

वह व्यक्ति उस कंपनी में किस पोस्ट पर कार्य कर रहा था, तथा वह व्यक्ति उस कंपनी में कितने सालों तक कार्य कर रहा था, इन जैसे और भी बहुत सारी जानकारियां उस व्यक्ति के बारे में दी गई होती है वैसे ही जब कोई छात्र किसी स्कूल या कॉलेज से अपनी पढ़ाई पूरी करके किसी दूसरे स्कूल या कॉलेज या फिर किसी यूनिवर्सिटी में प्रवेश लेने जाते हैं 

तो आप जिस स्कूल या कॉलेज से अपनी पढ़ाई पूरी करके जा रहे होते हैं तो उस स्कूल या कॉलेज द्वारा आपको marksheet के साथ tc भी दिया जाता है और आप जब किसी दूसरे स्कूल या कॉलेज या फिर किसी यूनिवर्सिटी में प्रवेश कराने जाते हैं तो वहां दूसरे जरूरी डॉक्यूमेंट के साथ साथ tc भी मांगा जाता है 

छात्रों को tc कब मिलता है 

जब कोई छात्र किसी स्कूल या कॉलेज से अपनी पढ़ाई पूरी करके या किसी कारणवश स्कूल या कॉलेज को छोड़ते है तब स्कूल या कॉलेजों द्वारा tc दिया जाता है लेकिन tc को पाने के लिए संस्था द्वारा एक फार्म भरने के लिए दिया जाता है जोकि उस फार्म के बदले में कुछ पैसे लेने पड़ते हैं 

उस फार्म में आपको बहुत सारी जानकारियां भरनी होती है और फार्म के साथ आपको एप्लीकेशन लिखकर देना होता है जिसमें आपको स्कूल या कॉलेज छोड़ने का कारण बताना होता है फिर उसके बाद इन डाक्यूमेंट्स को स्कूल या कॉलेज में जमा करना होता है उसके बाद स्कूल या कॉलेज द्वारा आपको tc दिया जाता है 

tc क्यों जरूरी होता है  

tc छात्रों के लिए बहुत जरूरी होता है उतना ही जरूरी होता है जितना कि marksheet जरूरी होता है क्योंकि tc में उस छात्र के विघालय का नाम के साथ में प्रधानाचार्य के हस्ताक्षर एवं विघालय का मोहर लगा होता है 

जो यह साबित करता है कि वह छात्र उसी विघालय से अपनी पढ़ाई पूरी की है जब आप किसी दूसरे स्कूल या कॉलेज या फिर किसी यूनिवर्सिटी में प्रवेश कराते हैं तो विघालय में आपकी ओरिजनल tc जमा हो जाती है 

फिर आप जब उस विघालय से अपनी पढ़ाई पूरी करके उस विघालय को छोड़ते हैं तो उस विघालय द्वारा नई ओरिजनल tc बनाकर दिया जाता है लेकिन tc तभी तक जरूरी साबित होता है जब तक कि छात्र अपनी पढ़ाई कर रहा है क्योंकि tc की जरूरत कभी पड़ती जब कोई छात्र किसी स्कूल या कॉलेज या फिर किसी यूनिवर्सिटी में प्रवेश कराने जाते हैं 

क्या डुप्लीकेट tc मिल सकती है 

अगर आपकी tc खो गई है या किसी दूसरे कारण से आपको tc की जरूरत होती है तो डुप्लीकेट tc कहा से बनवाएं तो आपको tc बनवाने के लिए उसी विघालय से संपर्क करना होगा 

जिस विघालय का tc खो गया था फिर आपको फार्म भरना होगा और भी कुछ जरूरी डाक्यूमेंट्स और फार्म के साथ आपको एप्लीकेशन लिखकर देना होता है 

FAQ – People also ask 

Q.1 school tc full form in hindi? 

— school tc ka full form hindi में स्थानांतरण प्रमाणपत्र होता है 

Q.2 tc full form in railway in hindi? 

— tc ka full form in railway Hindi में टिकट कलेक्टर होता है

conclusion – Tc full form in hindi

आज के इस आर्टिकल में हमने tc के बहुत सारी जानकारियों के बारे में पढ़ा जैसे कि Tc kya hai, Tc full form in hindi, railway tc ka full form इनके जैसे और भी tc से रिलेटेड बहुत सारी जानकारियों के बारे में पढ़ा 

और हमें उम्मीद है कि आपने भी इस आर्टिकल को पूरा पढ़ा होगा और इस आर्टिकल को पूरा पढ़के आपको tc से रिलेटेड बहुत सारी जानकारियों के बारे में अच्छे से जान गए होंगे

और अगर आप Tc full form in hindi या TC से रिलेटेड और भी कुछ जानना चाहते हैं या इससे रिलेटेड कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो हमें कमेंट में लिखकर जरूर बताएं धन्यवाद।

Leave a Comment